Monthly Archives: January 2021

ऐ हिंदी तुझमें माँ जैसा भाव है

ये कैसा लगाव हैऐ हिंदी तुझमें माँ जैसा भाव है उँगलियाँ थाम कर माँ नेतुझ संग चलना सिखलायाअ से अनार इ से इमली काहर रस तुझमें पायालिखना पढ़ना अंग्रेजी में भीबहुधा हुआ करता हैजाने क्यों मगर हिंदी से चाव हैऐ … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment